हिंदी साहित्य को कितने काल में बांटा गया है?

                    हिंदी साहित्य को कितने काल में बांटा गया है?

हिंदी कविता  इतिहास लगभग एक हजार वर्ष पुराना है | आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने संवत 1050 से हिंदी साहित्य के इतिहास का श्रीगणेश माना  है | 



इन्ही के आधार पर हिंदी कविता के इतिहास को चार युगो में बाँटा गया है -

1. आदिकाल ( वीरगाथा काल )                             ( संवत 1050 से 1375 )
2. भक्तिकाल ( पूर्व मध्यकाल )                              ( संवत 1375 से 1700 )
3. रीतिकाल   ( उत्तर मध्यकाल )                           ( संवत 1700 से 1900 )
4. आधुनिक काल (अधतन काल )                         ( संवत 1900 से अब तक )


1. आदिकाल ( वीरगाथा काल )  :-  संछेप में जाने | 


2. भक्तिकाल ( पूर्व मध्यकाल )  :-  संछेप में जाने | 


3. रीतिकाल   ( उत्तर मध्यकाल )  :-   संछेप में जाने | 


4. आधुनिक काल (अधतन काल ) :-   संछेप में जाने | 





हिंदी साहित्य का वैज्ञानिक इतिहास किसकी रचना है? :- संछेप में जाने | 
हिंदी साहित्य का प्रथम इतिहास कौन सा है?  :- संछेप में जाने | 
आदिकाल हिंदी साहित्य का कौन सा काल है?  :- संछेप में जाने |





#hindi ssahitya

# हिंदी साहित्य को कितने काल में बांटा गया है?

web tags :- #shayari #hindisahitya #hindishayari #india #vyakran #hindivyakran #shayarmunch.in 

 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ