अलंकार की परिभाषा हिंदी मे

                अलंकार की  परिभाषा  हिंदी मे 

                                                               अलंकार  की  परिभाषा   
परिभाषा :- (1 ) काव्य की शोभा बढ़ाने वाले साधनो को अलंकार कहते है | 
                   (2 ) जो काव्य को अलंकृत करे , वह अलंकार है |  अलंकार का शाब्दिक अर्थ है ,                                                       आभूषण जिन गुण धर्मो के द्वारा काव्य सौंदर्य में वृद्धि होती है , उसे अलंकार                                                            कहते है  |  
 
अलंकार दो सब्दो से मिलकर  बना होता है अलम + कार ,  यहां  पर अलम का अर्थ होता है" आभूषण | मानव समाज बहुत ही सौन्दर्यपासक है उशकी प्रवित्ति ने ही नए अलंकारों को जन्म दिया है | अलंकार , कविता कामिनी के सौंदर्य को बढ़ाने वाले तत्त्व होते है | 



अलंकार के प्रकार (भेद ) - अलंकार के तीन  प्रकार (भेद ) होते है |

1 . शब्दालंकार 
2 . अर्थालंकार 
3 . उभयालंकार 




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ